लहरो का अस्तित्व

0
30

समुद्र की लहरो से हमने पूछा
किनारो को छूने को क्यों आतूर है?
जब लोट के वापस जाना है
लहरो ने मासूमयीत के साथ बोला
कुछ ले के जाना है कुछ दे के जाना है 11

हमसे रहा न गया हमने पूछा
अखिर क्या ले जाना है या दे जाना है
लहरो ने जबाब दिया
हर समय प्रयास रत रहने की सीख
चन्द मोती तुम्हारी झोली मे डाल देना है
तुम्हारे पैरों की धूल की तरह अन्य कचरे ले जाना है 11

लहरो से हमने पूछा
फिर तुम कीमत क्या लोगी
लहरो ने मासूमयीत से जबाब दिया
तुम मनुष्य के लिए कीमत – सब कुछ है कीमत ही संसार
हमारे संसार में कीमत का कोई अस्तित्व नहीं है 11

Rate this post
Previous articleSpirit Of India
Next articleSky Zone

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here