वो कहते है

0
33

वो कहते है पराए हो गए|
हम कहते है पराए अपने हो गए|

वो कहते धर को छोड चले|
हम कहते धर को जोडने चले|

वो कहते है मर्यादा मे बधने चले|
हम कहते मर्यादा सीखाने चले|

वो कहते है प्यार देने चले|
हम कहते है प्यार को जोडने और बडाने चले|

वो कहते है निभाना होगा व मान सम्मान करना होगा|
हम कहते है कैसे निभाया जाता है सिखाने चले|

वो कहते है राह कठिन है|
हम कहते है शक्तिशाली ही कठिन राह पर चलते है |
और सफलता को पा लेते है|

Rate this post
Previous articleLife – Choice
Next articleजरा सोचिये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here